किस माला से किन देवी-देवताओं का जाप करें

1.

किस माला से किन देवी-देवताओं का जाप करें

2.

हिंदू धर्म में माला जप का बहुत बड़ा महत्व है। ऐसी मान्यता है कि माला जप करने वालों पर देवी-देवताओं की कृपा बनी रहती है।

3.

धार्मिक मान्यता है कि पूजा से भी ज्यादा शक्ति माला का जाप करने में होती है, हिंदू धर्म में हर माला का अलग महत्व है।

4.

रुद्राक्ष को महादेव का प्रतीक माना गया है। किसी भी उद्देश्य की पूर्ति के लिए रुद्राक्ष की माला का जप किया जा सकता है।

5.

रुद्राक्ष की माला से श्री गायत्री, श्री दुर्गा, भगवान शिव, श्री गणेश, श्री कार्तिकेय और माता पार्वती के नाम का जप करना चाहिए।

6.

स्फटिक की माला को माता भगवती का रूप माना जाता है। कांच की तरह दिखने वाली यह माला शक्ति की प्रतीक लक्ष्मी, सरस्वती व दुर्गा जाप के लिए उत्तम है।

7.

इस माला का प्रयोग से मंत्र शिघ्र सिद्ध होता है, लक्ष्मी की प्राप्ति होती है और ग्रह दोष भी दूर होते हैं।

8.

विष्णु प्रिय तुलसी की माला भगवान विष्णु के अवतार श्रीकृष्ण और राम की उपासने के लिए सर्वोत्तम है। इस माला को धारण करने वाले व्यक्ति को सात्विक नियमों का पालन करना आवश्यक होता है।

9.

सफेद चंदन की माला से सभी देवी देवताओं का जाप किया जा सकता है। श्रीराम, विष्णु जी, मां सरस्वती मंत्र और गायत्री मंत्र का जाप करना विशेष फल प्रदान करता है। लाल चंदन की माला से देवी दुर्गा के मंत्र का जाप करना चाहिए।

10.

मूंगे के पत्थरों से बनी माला का जाप करने से मंगल ग्रह की शांति होती है। इस माला से मंगलदेव या हनुमान मंत्रों का जाप किया जा सकता है।