फिर टूटी वंदे भारत की ‘नाक’

1.

‘नाक’ टूट कर बचाती है इंजन और पैसेंजर्स

2.

पिछले कुछ दिनों में वंदे भारत ट्रेन से जानवरों के टकराने की घटनाएं बढ़ी हैं।

3.

रेलवे के मुताबिक इस ट्रेन का अगला हिस्सा इसी तरह डिजाइन किया गया है कि हादसे की स्थिति में इंजन को नुकसान न पहुंचे।

4.

इसका अगला हिस्सा फाइबर प्लास्टिक से बना होता है। इसकी कीमत मात्र 10 से 15 हजार रुपए है।

5.

यही वजह है कि हादसे के कुछ घंटे बाद ही ट्रेन को सही कर आगे रवाना कर दिया जाता है।

6.

लाइफ & स्टाइल की औरस्टोरीज के लिए क्लिक करें

7.

8.

9.

10.