साल 2100 क्यों नहीं होगा लीप ईयर?

1.

साल 2100 क्यों नहीं होगा लीप ईयर?

2.

लीप ईयर यानी ऐसा साल, जो 365 नहीं बल्कि 366 दिन में पूरा होता है। ये एक्स्ट्रा दिन साल के सबसे छोटे महीने फरवरी में गिना जाता है।

3.

यानी आमतौर पर 28 दिन का फरवरी का महीना लीप ईयर में 29 दिन का हो जाता है। इस बार 29 फरवरी को लीप डे होगा।

4.

2024 के बाद अगला लीप ईयर 2028 में होगा। 2032, 2036...इस तरह हर चार साल पर लीप ईयर होता है।

5.

फॉर्मूला यह है कि किसी भी ईयर का अंतिम दो डिजिट यदि 4 से भाज्य है तो वह लीप ईयर होता है। जैसे 2016, 2020, 2024 को ले सकते हैं।

6.

लेकिन ध्यान देने वाली बात है कि सेंचुरी ईयर पर ये फॉर्मूला लागू नहीं होता। इसके लिए सेंचुरी ईयर को 400 से भाज्य होना चाहिए।

7.

जैसे सन 2000 और 2400 दोनों 400 से भाज्य हैं, इसलिए ये लीप ईयर हैं लेकिन सन 2100 400 से भाज्य नहीं हैं, इसलिए यह लीप ईयर नहीं है।

8.

जैसे सन 2000 और 2400 दोनों 400 से भाज्य हैं, इसलिए ये लीप ईयर हैं लेकिन सन 2100 400 से भाज्य नहीं हैं, इसलिए यह लीप ईयर नहीं है।

9.

लीप ईयर से जुड़ी कई तरह की मान्यताएं हैं। जैसे यूके में लीप डे को बैचलर्स डे के रूप में मनाया जाता है। इस दिवस पर लड़कियां लड़कों को प्रपोज करती हैं।

10.

लीप ईयर से जुड़ी कई तरह की मान्यताएं हैं। जैसे यूके में लीप डे को बैचलर्स डे के रूप में मनाया जाता है। इस दिवस पर लड़कियां लड़कों को प्रपोज करती हैं।