स्विगी को 9 महीने में 15 अरब का नुकसान

1.

स्विगी को9 महीने में 15 अरबका नुकसान

2.

ऑनलाइन फूड डिलीवरी कंपनी स्विगीके इंटरनल डॉक्यूमेंट से इसका खुलासाहुआ है। यह घाटा दिसंबर 2023तक का है।

3.

स्विगी बाजार में अपना आईपीओ लानेवाली है, लेकिन इससे पहले ही कंपनीको घाटे का सामना करना पड़ रहा है।

4.

डॉक्यूमेंट्स के अनुसार, पूरे वित्तीय वर्ष2022-23 में स्विगी को 41.8 अरब रुपएका घाटा हुआ। यह घाटा और बढ़ गया है।

5.

सॉफ्टबैंक समर्थित यह कंपनी मई तकआईपीओ के लिए डॉक्यूमेंट फाइलकरेगी और फेस्टिव सीजन केआसपास आईपीओ लॉन्‍च करेगी।

6.

2022 में निवेशकों ने स्विगी का मूल्य10.7 बिलियन डॉलर आंका था। अबस्विगी की वैल्युएशन 12-15 अरब डॉलरके बीच हो सकती है।

7.

स्विगी की प्रतिद्वंद्वी फूड डिलीवरीकंपनी जोमैटो के शेयरों में भी 2021 कीलिस्टिंग के बाद गिरावट देखी गई है।

8.

स्विगी को 2014 में श्रीहर्ष माजेटी, नंदन रेड्‌डीऔर राहुल जैमिनी ने शुरू किया था।श्रीहर्ष स्विगी के सीईओ और ओरिजिनलको फाउंडर हैं।

9.

श्रीहर्ष ने BITS पिलानी से इंजीनियरिंगकी पढ़ाई की। फिजिक्स में मास्टर्सकरने के बाद आईआईएम कलकत्तासे पीजी डिप्लोमा किया।

10.

श्रीहर्ष ने लंदन में नौकरी छोड़ अपने प्रोजेक्टपर काम किया। उन्होंने 2017 में क्लाउडकिचन की भी शुरुआत की। आज 500 सेअधिक शहरों में स्विगी काम कर रही है।